Subscribe Now:-

Now Available on Gaana:-

Album :- Ae Chanda
Singer :- Ritesh Pandey
Lyrics & Music Composer :- Rahul Ranjan, Yodha Singh
Music Director :- Golu Gagan
Recordist :- Amit Sharma
Company/ Label :- Wave
Digital Managed by – Lokdhun
(Contact – 9718776677)
VG – 20563

#Ritesh Pandey Sad Song
#Ritesh Pandey New Song
#Ritesh Pandey 2020
#Ritesh Pandey Hit Song
#Ritesh Pandey Hit Song 2020
#Bhojpuri Hit Song
#Ae Chanda Ritesh Pandey
#Ritesh Pandey Ae Chanda

#Ritesh Pandey का एक और धमाकेदार गाना | Ae Chanda | New Bhojpuri Song 2020

Download Wave Music official app from Google Play Store –

46 comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  • Hili bay❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍👍❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️❤️🙏

  • " मै मंदिर मे बैठा था
    वो मस्जिद में बैठी थी.
    मै पंडित जी का बेटा था
    वो काजी साहब की बेटी थी.
    मै बुलेट पर चल कर आता था.
    वो बुरखे मे गुजरती थी.
    मै कायल था उसकी आँखों का.
    वो मेरी नजर पर मरती थी.
    मै खडा रहता था चौराहे पर
    वो भी छत पर चढती थी.
    मै पूजा कर आता था मजारो की
    वो मंदिर में नमाज पढती थी.
    वो होली पे मुझे रंग लगाती
    मै ईद का जश्न मनाता था.
    वो वैश्णो देवी जाती थी
    मै हाजी अली हो आता था.
    वो मुझको कुरान सुनाती
    मै उसको वेद समझाता था.
    वो हनुमान चालीसा पढती थी
    मै सबको अज़ान सुनाता था ।
    उसे माँगता था मै मेरे रब से
    वो अल्लाह से मेरी दुआ करती थी.
    ये सब उन दिनो की बात है,
    जब वो मेरी हुआ करती थी?
    फिर इस मजहबी इश्क का ऐसा अंजाम हुआ.
    वो मुसलमानों में हो गई ।
    मै हिन्दुओ में बदनाम हुआ.
    मै मंदिर मे रोता था ।
    वो मस्जिद में रोती थी.
    मै पंडित जी का बेटा था.
    वो काजी साहब की बेटी थी..
    रोते – रोते हम लोगों की तब शाम ढला करती थी..
    अपने अब्बू से छुप कर वो मस्जिद के पीछे मिला करती थी।
    मै पिघल जाता था बर्फ सा वो जब भी छुवा करती थी।
    ये सब उन दिनो की बात है जब वो मेरी हुआ करती थी..
    कुछ मजहबी कीडे आ कर
    हमारी दुनिया उजाड गए.
    जो खुदा से न हारे थे.
    वो खुदा के बंदो से हार गए..
    जीतने की कोई गुनजाईस न था
    मै इश्क की हारा बाजी था..
    जो उसका निकाह कराने आया था
    वो उसी का बाप काजी था.
    जो गूंज रही थी मेरे कानो में
    वो उसकी शादी की शहनाई थी..
    मै कलिया बिछा रहा था राहो में
    आज मेरी जान की विदाई थी.
    मै वही मंदिर मे बैठा था.
    पर आज वो डोली मे बैठी थी..
    मै पंडित जी का बेटा था..
    वो काजी साहब की बेटी थी…
    😭😭💔😭😭
    Silent Love…
    apka apna Dost
    writer Deepak Pandey
    Contect no 8320827556
    Contect no 8154904915
    Plz subscribe my you tube chanel friends

  • " मै मंदिर मे बैठा था
    वो मस्जिद में बैठी थी.
    मै पंडित जी का बेटा था
    वो काजी साहब की बेटी थी.
    मै बुलेट पर चल कर आता था.
    वो बुरखे मे गुजरती थी.
    मै कायल था उसकी आँखों का.
    वो मेरी नजर पर मरती थी.
    मै खडा रहता था चौराहे पर
    वो भी छत पर चढती थी.
    मै पूजा कर आता था मजारो की
    वो मंदिर में नमाज पढती थी.
    वो होली पे मुझे रंग लगाती
    मै ईद का जश्न मनाता था.
    वो वैश्णो देवी जाती थी
    मै हाजी अली हो आता था.
    वो मुझको कुरान सुनाती
    मै उसको वेद समझाता था.
    वो हनुमान चालीसा पढती थी
    मै सबको अज़ान सुनाता था ।
    उसे माँगता था मै मेरे रब से
    वो अल्लाह से मेरी दुआ करती थी.
    ये सब उन दिनो की बात है,
    जब वो मेरी हुआ करती थी?
    फिर इस मजहबी इश्क का ऐसा अंजाम हुआ.
    वो मुसलमानों में हो गई ।
    मै हिन्दुओ में बदनाम हुआ.
    मै मंदिर मे रोता था ।
    वो मस्जिद में रोती थी.
    मै पंडित जी का बेटा था.
    वो काजी साहब की बेटी थी..
    रोते – रोते हम लोगों की तब शाम ढला करती थी..
    अपने अब्बू से छुप कर वो मस्जिद के पीछे मिला करती थी।
    मै पिघल जाता था बर्फ सा वो जब भी छुवा करती थी।
    ये सब उन दिनो की बात है जब वो मेरी हुआ करती थी..
    कुछ मजहबी कीडे आ कर
    हमारी दुनिया उजाड गए.
    जो खुदा से न हारे थे.
    वो खुदा के बंदो से हार गए..
    जीतने की कोई गुनजाईस न था
    मै इश्क की हारा बाजी था..
    जो उसका निकाह कराने आया था
    वो उसी का बाप काजी था.
    जो गूंज रही थी मेरे कानो में
    वो उसकी शादी की शहनाई थी..
    मै कलिया बिछा रहा था राहो में
    आज मेरी जान की विदाई थी.
    मै वही मंदिर मे बैठा था.
    पर आज वो डोली मे बैठी थी..
    मै पंडित जी का बेटा था..
    वो काजी साहब की बेटी थी…
    😭😭💔😭😭
    Silent Love…
    apka apna Dost
    writer Deepak Pandey
    Contect no 8320827556
    Contect no 8154904915
    Plz subscribe my you tube chanel friends

  • " मै मंदिर मे बैठा था
    वो मस्जिद में बैठी थी.
    मै पंडित जी का बेटा था
    वो काजी साहब की बेटी थी.
    मै बुलेट पर चल कर आता था.
    वो बुरखे मे गुजरती थी.
    मै कायल था उसकी आँखों का.
    वो मेरी नजर पर मरती थी.
    मै खडा रहता था चौराहे पर
    वो भी छत पर चढती थी.
    मै पूजा कर आता था मजारो की
    वो मंदिर में नमाज पढती थी.
    वो होली पे मुझे रंग लगाती
    मै ईद का जश्न मनाता था.
    वो वैश्णो देवी जाती थी
    मै हाजी अली हो आता था.
    वो मुझको कुरान सुनाती
    मै उसको वेद समझाता था.
    वो हनुमान चालीसा पढती थी
    मै सबको अज़ान सुनाता था ।
    उसे माँगता था मै मेरे रब से
    वो अल्लाह से मेरी दुआ करती थी.
    ये सब उन दिनो की बात है,
    जब वो मेरी हुआ करती थी?
    फिर इस मजहबी इश्क का ऐसा अंजाम हुआ.
    वो मुसलमानों में हो गई ।
    मै हिन्दुओ में बदनाम हुआ.
    मै मंदिर मे रोता था ।
    वो मस्जिद में रोती थी.
    मै पंडित जी का बेटा था.
    वो काजी साहब की बेटी थी..
    रोते – रोते हम लोगों की तब शाम ढला करती थी..
    अपने अब्बू से छुप कर वो मस्जिद के पीछे मिला करती थी।
    मै पिघल जाता था बर्फ सा वो जब भी छुवा करती थी।
    ये सब उन दिनो की बात है जब वो मेरी हुआ करती थी..
    कुछ मजहबी कीडे आ कर
    हमारी दुनिया उजाड गए.
    जो खुदा से न हारे थे.
    वो खुदा के बंदो से हार गए..
    जीतने की कोई गुनजाईस न था
    मै इश्क की हारा बाजी था..
    जो उसका निकाह कराने आया था
    वो उसी का बाप काजी था.
    जो गूंज रही थी मेरे कानो में
    वो उसकी शादी की शहनाई थी..
    मै कलिया बिछा रहा था राहो में
    आज मेरी जान की विदाई थी.
    मै वही मंदिर मे बैठा था.
    पर आज वो डोली मे बैठी थी..
    मै पंडित जी का बेटा था..
    वो काजी साहब की बेटी थी…
    😭😭💔😭😭
    Silent Love…
    apka apna Dost
    writer Deepak Pandey
    Contect no 8320827556
    Contect no 8154904915
    Plz subscribe my you tube chanel friends

  • Xbox // प्रोफाइल पर टच करके चैनल को सब्सक्राइब करें//

    Welcome ÷ Subscribe Now………

  • जो मेरा चैनल subscribeकरेगा मैं उसका चैनल मैं प्रमोट करूंगा 💯 50k + 1लाक subscribe किस किस को चाहिए तो देर किस बात कि हैं भाई बुंद बुंद से तालाब भरता है तो अभी आप लोग आपस मैं चैनल को सब्सक्राइब जरूर करें और बैल आइकन ऑल पर जरूर क्लिक करें 🙏 तो लोग आईसा करेंगे मैं उनका चैनल प्रमोट करूंगा जरूर से ✔️

  • (है दोस्तो ए दिल कि बात है)🙏
    👉मुझे तो आज पता चला है कि माँ💗 ही
    एक ऐसि चिछ है जो अपने बच्चो को पलने
    के लिए कितनी कठिनाईया़ उठाती हैं 🌱
    माँ के लिए )
    मुझे सपोट मेरे 🙏 फोटो पर क्लीक करे और मेरे channel ko SUBSCRIBE Kare plz

%d bloggers like this: